Anjeer खाने के क्या फायदे है ? Anjeer का सेवन कैसे करे।

Anjeer

Anjeer लंबे समय से न केवल कब्ज, बल्कि खांसी, अस्थमा, मधुमेह और ब्लड प्रेसर को नियंत्रित करने के लिए औषधीय के रूप में उपयोग किया जाता है। इसके बहोत ही लाभ है। Anjeer हमें अच्छा स्वास्थ्य प्राप्त करने में मदद करता है ।

कब्ज से निपटने के लिए Anjeer का सेवन।

सर्दियों के मौसम की ठंडी जलवायु अपने साथ कई समस्या लेकर आती है जैसे सर्दी और खांसी के अलावा, कब्ज एक ऐसी समस्या है जिसका सामना कई लोगों को करना पड़ता है। सर्दियों में हमारे पाचन को बिगाड़ने के पीछे का एकमात्र कारण ठंढी का मौसम नहीं है, एक ये भी है के हम पानी कम पीना शुरू कर देते है। सर्दी में शारीरिक गतिविधियों में भी कमी होने लगती है , और हम खासतौर पर भारी खाद्य पदार्थों का सेवन करने लगते है। जैसे तले हुए और मीठे खाद्य पदार्थ। जिस कारण हमारे पाचन बिगड़ने लगता है।

यदि आप भी खराब पाचन से पीड़ित हैं, तो आप Anjeer का सेवन करने की कोशिश करें और ऐसे ही कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन करें जो वास्तव में पाचन में सहायता करते हैं। Anjeer एक फल है जिसे स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा कब्ज से निपटने के लिए सेवन करने को कहा जाता है। यह एक प्रकार का फल है जो फिगस नामक पेड़ से आता है।

Anjeer लंबे समय से न केवल कब्ज, बल्कि खांसी, अस्थमा, मधुमेह और ब्लड प्रेसर को नियंत्रित करने के लिए औषधीय के रूप में उपयोग किया जाता है। इसके बहोत ही लाभ है। Anjeer हमें अच्छा स्वास्थ्य प्राप्त करने में मदद करता है ।

अंजीर को अंग्रेजी में figs कहते है। 

अंजीर में क्या पोषक तत्वा पाए जाते है ?

Anjeer में विटमिन A , विटमिन C , विटमिन K , विटमिन B  के साथ-साथ मैग्नीशियम, कॉपर, आयरन, पोटैशियम, जिंक, मैंगजिन, और कैल्शियम पाया जाता है। 100 ग्राम सूखे हुए Anjeer में 209 कैलरी, 4 grm प्रोटीन, 1.5 grm  फैट, 48.6 grm  कार्बोहाइड्रेट, 9.2 grm  फाइबर होता है। वहीं, 100 grm  ताजे अंजीर में 43 grm कैलरी, 1.3 grm  प्रोटीन, 0.3 grm  फैट, 9.5 ग्राम कार्बोहाइड्रेट और 2 grm  फाइबर होता है। Anjeer एक बेहद मीठा फल है क्योंकि इसमें नेचुरल शुगर की मात्रा काफी होती है और यह ऐंटिऑक्सिडेंट का भी बेहतरीन सोर्स है जिस वजह से यह हमें सेहतमंद रखने में मदद करता है।

Anjeer हार्ट के लिए भी फायदेमंद है।

हमारे शरीर में फ्री redicals बनने पर हार्ट में मौजूद कोरोनरी धमनियां जाम हो जाती हैं और हार्ट से जुड़ी बीमारियां होने लगती हैं। ऐसे में Anjeer में मौजूद ऐंटिऑक्सिडेंट गुण इन फ्री रैडिकल्स को खत्म कर हार्ट को सुरक्षित रखता है। इसके अलावा अंजीर में omega-3 और omega-6 फैटी ऐसिड गुण भी होते हैं, जो हार्ट को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं

डायबीटीज में फायेदमंद।

Anjeer की पत्तियों में तत्व पाया जाता है जो इंसुलिन सेन्सिटिविटी को बेहतर बनाने में मदद करता है। एक स्टडी में भी देखा गया है कि अंजीर एक्स्ट्रैक्ट खून में मौजूद फैटी ऐसिड और विटमिन ई के लेवल को सामान्य रखने में मदद करके डायबीटीज ट्रीटमेंट में लाभ पहुंचाता है।

अनीमिया से भी दूर रखता है।

जब शरीर में आयरन की कमी होने लगती है तो हम अनीमिया का शिकार हो जाते है। सूखे Anjeer को आयरन का मेन सोर्स माना जाता है। इसे खाने से शरीर में हेमोग्लोबिन का स्तर बढ़ता है। अंजीर के सेवन से शरीर में आयरन की मात्रा बढ़ जाती है और शरीर किसी भी तरह की बीमारी से लड़ने में सक्षम हो जाता है।

अस्थमा में भी anjeer काफी फायदेमंद है।

अंजीर अस्थमा में भी काफी मदद करता है। अंजीर खाने  से शरीर के अंदर म्यूकस झिल्लियों को नमी मिलती है और कफ साफ होता है, जिससे अस्थमा के मरीज को राहत मिलती है। अगर फ्री रेडिकल्स शरीर में बने रहें, तो अस्थमा को और गंभीर बना सकते हैं। अंजीर फ्री रेडिकल्स से लड़ते हैं।

ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में मददगार

आप  नियमित रूप से अंजीर का सेवन कर के ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रख सकते है। अंजीर में पाए जाने वाले फाइबर और पोटैशियम दोनों मिलकर हाई ब्लड प्रेशर  को कम करने में मदद करते हैं। इसके अलावा अंजीर में ओमेगा-3 और ओमेगा-6 फैटी ऐसिड भी पाया जाता है, जो ब्लड प्रेशर कंट्रोल करता है।

​हड्डियों के लिए फायदेमंद अंजीर

कैल्शियम से भरपूर अंजीर, हड्डियों को स्ट्रॉन्ग बनाने में मदद करता है जिससे हड्डी टूटने का खतरा कम हो जाता है। अंजीर में कैल्शियम, पोटैशियम और मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में होता है जिससे आपके हड्डी के लिए काफी फायदेमंद होता है।

Anjeer का सेवन कैसे करे।

Anjeer घुलनशील फाइबर और फाइटोन्यूट्रिएंट्स से भरपूर होता है, साथ ही इसमें आयरन, कॉपर, मैग्नीशियम और कैल्शियम भी होते हैं। कुछ अंजीर को रातभर भिगोएं और एक गिलास पानी या दूध के साथ सेवन करे पुरानी कब्ज में आराम मिलेगा।

हालांकि कई तरीके हैं जिनसे आप अंजीर का सेवन कर सकते हैं, अंजीर  मिल्कशेक उन सबसे स्वादिष्ट व्यंजनों में से एक है जिसे आप बना सकते हैं, जिसे आप बच्चों को भी पीला सकते हैं। आप या तो एक ठंडा मिल्कशेक या गर्म अंजीर दूध बना सकते हैं।

1. ठंडी Anjeer मिल्कशेक रेसिपी

5-6 अंजीर को रातभर पानी में भिगो दें। पानी को छान लें और अंजीर को ब्लेंडर में डालें। एक गिलास दूध, चीनी या शहद, 2 बूंद वेनिला एसेंस मिलाएं और सब कुछ एक साथ मिलाएं। आप अंजीर मिल्कशेक को कटे हुए बादाम, पिस्ता या किशमिश से सजा सकते हैं।

2. गर्म Anjeer दूध कैसे बनाये ?

30 मिनट के लिए 4 -5 Anjeer गर्म पानी में भिगो दे । इसके बाद अंजीर को 10 मिनट तक पानी में उबालें। 1 गिलास दूध उबालें और अगर आप इसे मीठा करना चाहते हैं तो चीनी मिलाएं। अंजीर निकालें और इसे ठंडा होने दें या ठंडे पानी से धो लें। फिर अंजीर को थोड़े से पानी के साथ पीस लें। दूध में अंजीर पेस्ट मिलाएं और लगातार हिलाते हुए दूध को फिर से उबालें। आपका गर्मागर्म अंजीर दूध तैयार है।

ये रेसिपी 1 गिलास अंजीर का दूध बनाएगी। सामग्री को उस मात्रा के अनुसार ले जितना आप बनाना चाहते हैं। इन स्वस्थ और स्वादिष्ट पेय के साथ कब्ज से राहत पाएं।

ये भी पढ़े – Top Hospitals In India – भारत के शीर्ष 15 सर्वश्रेष्ठ अस्पताल

पसंद आया तो शेयर करे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*