ATM Machine क्या है? एटीएम मशीन का इतिहास क्या रहा है?

ATM Machine

आधुनिकता युग अनेक सुख-सुविधाओं से मानव का जीवन में अमूलचुल परिवर्तन हुआ है। विभिन्न खोजो में ATM machine भी एक महत्वपूर्ण खोज रही है।आपके आसपास में एटीएम की मशीन जरूर देख रहे होंगे। ATM machine आधुनिक युग में एक महत्वपूर्ण खोज है यह एक automatic trailer machine है जो कुछ प्रक्रिया के द्वारा स्वतः ही पैसे निकालने की सुविधा प्रदान करता है। यह एक जिज्ञासा का विषय भी है कि यह कार्य कैसे करता है? इसका निर्माण किसने किया और कब किया? इस का पिन कैसे जनरेट किया जाए? आदि बहुत सारे प्रश्न हमारे मन में आते हैं आज हम इन्हीं बातों पर ध्यान केंद्रित करेंगे।

ATM Machine का आविष्कार किसने किया?

विश्व की पहली ATM Machine का अविष्कार वर्ष 1967 में John Shepherd-Barron. द्वारा की गई। जॉन शेफर्ड बेरोन ने बैंको में अत्यधिक भीड़ देखकर उनके मन में ख्याल आया कि किस तरह बैंकों में हो रही सुविधाओं को दूर किया जा सकता है, इसीलिए उन्होंने automatic teller machine का अविष्कार किया।

एटीएम मशीन को हिंदी में क्या कहते हैं?

एटीएम मशीन को हिंदी में स्वचालित गणक मशीन कहते हैं।

ATM – automatic tailor machine क्या है?

अन्य यंत्रों की तरह एटीएम एक मशीन है जो दूरसंचार द्वारा नियंत्रित एवं कंप्यूटर जैसा मशीन होता है। एटीएम के माध्यम से बैंक संबंधी हस्तांतरण कार्य किये जाते हैं। इसमें किसी मानव की सहायता की आवश्यकता न के बराबर होती है। आज विश्व के सभी देशों द्वारा एटीएम मशीन का उपयोग किया जा रहा है। यह मानव सुविधा में एक महत्वपूर्ण बदलाव भी है।

ये भी पढ़े – EVM मशीन क्या है? EVM का आविष्कार कब और किसने किया?

ATM Machine का संक्षिप्त इतिहास क्या रहा है?

ATM machine के आविष्कार के साथ इसके इसकी मांग भी बढ़ने लगी सर्वप्रथम लंदन में 1967 ही लंदन के बार्केले बैंक द्वारा किया गया। ऐसा दावा किया जाता है कि 1967 से पहले भी एटीएम जैसा मशीन का प्रयोग किया गया 1961 में City Bank of New York द्वारा प्रयोग के रूप में इसका प्रयोग किया गया जो कि सफल ना हो सका। अलग-अलग देशों द्वारा इसी जैसी मशीन का आविष्कार प्रयोग किया गया परंतु सफलता पूर्ण रूप से प्राप्त नहीं हो पाई।
इसके विकास में इंजीनियर डे ला रूई का भी महत्त्वपूर्ण योगदान है। आजकल की एटीएम मशीनें इंटरबैंक नेटवर्क से जुड़ी होती हैं। इंटरबैंक नेटवर्क पीयूएलएसइ या पीएलयूएस नामों से जाने जाते हैं।

बैंकों से जुडे एटीएम मशीन का प्रयोग हम सभी खाते की स्थिति जानने एवं खाते से रकम निकालने के लिए करते है। ATM Machine आपको अपने खाते से पैसे निकालने की आसान सुविधा उपलब्ध कराता है कि आज ग्राहक अब बैंक से ज्यादा ATM Machine से रकम निकालना ज्यादा पसंद करने लगे हैं। आज एटीएम भी दिनचर्या का अहम हिस्सा बन गया है। बैंकों द्वारा भी एटीएम मशीन में अनेक सुविधाएं उपलब्ध कराने लगे हैं

बैंकों से जुडे एटीएम मशीन का प्रयोग हम सभी खाते की स्थिति जानने एवं खाते से रकम निकालने के लिए करते है। ATM Machine आपको अपने खाते से पैसे निकालने की आसान सुविधा उपलब्ध कराता है कि आज ग्राहक अब बैंक से ज्यादा ATM Machine से रकम निकालना ज्यादा पसंद करने लगे हैं। आज एटीएम भी दिनचर्या का अहम हिस्सा बन गया है। बैंकों द्वारा भी एटीएम मशीन में अनेक सुविधाएं उपलब्ध कराने लगे हैं

ये भी पढ़े – TRP क्या है? टीआरपी की गणना कैसे की जाती है।

ATM Machine

ATM Machine काम कैसे करता है?

एटीएम मशीन में अनेक उपकरण लगे होते हैं यह दूर संचार के माध्यम से बैंकों से जुड़े होते हैं एटीएम मशीन के लिए सभी ग्राहकों को एटीएम कार्ड उपलब्ध कराया जाता है एटीएम कार्ड में जो  फंक्शन होते हैं जिस मैं गोपनीय अंक होते हैं जिसके माध्यम से एटीएम मशीन ग्राहकों की पहचान करता है और उस उन्हें रकम हस्तांतरण की सुविधा प्रदान करता है। यह अत्यधिक सुविधा व सुरक्षित हस्तांतरण उपलब्ध कराता है हम 24 घंटे में कभी भी एटीएम मशीन का प्रयोग कर सकते हैं।

ATM Machine का Use कैसे करें?

ऑटोमेटिक टेलर मशीन का प्रयोग अत्यधिक सरल है ATM मशीन से लेनदेन करने के लिए बैंकों द्वारा हमें Credit Card, Debit Card दिया जाता है इनकी सहायता से हम एटीएम मशीन से सरलता से हस्तांतरण कर सकते हैं।
ATM machine का उपयोग करने हेतु सर्वप्रथम अपने कार्ड को एटीएम मशीन के अंदर डालें। थोड़ी देर बाद आपके पास विकल्प होगा भाषाओं के चयन का English और हिंदी भाषा मैं किसी एक भाषा का चयन करें। तभी आगे की प्रक्रिया शुरू हो सकेगी अगर आप इंग्लिश भाषा का प्रयोग जानते हैं इंग्लिश का चयन करें और इंग्लिश नहीं जानते तो हिंदी भाषा का प्रयोग करें।

पैसे अगर निकालने हैं तो सर्वप्रथम एटीएम मशीन में एटीएम कार्ड डालने के बाद भाषा चयन के पश्चात आपको दो नंबर का कोई भी बटन दबाने के लिए मशीन आप्शन देगा। उसके बाद आप अपना चार नंबर का गोपनीय अंक, पिन नम्बर का आप्शन आएगा। अपना गोपनीय अंक डालने के बाद आपको अनेक ऑप्शन्स में withdrawal के आप्शन का चयन करना है। आपको आगे कितने पैसे निकालने हैं इसका चयन करना होगा उसे दबाने के बाद आपको हस्तांतरित रकम प्राप्त हो जाएगी आप इससे पहले रसीद के मिल लेना है कि नहीं लेना इसका ऑप्शन के आका भी सेंड कर सकते हैं पैसे हस्तांतरण के पश्चात एटीएम मशीन द्वारा स्वतः ही रीसेट हो जाती है। परंतु फिर भी वहां कैंसिल का ऑप्शन होता है उसका चयन कर आप उसे कैंसिल भी कर सकते हैं।

ATM कार्ड कैसे पाए और पिन जेनेरेट कैसे करे ?

दोस्तों अगर आपके पास एटीएम कार्ड नहीं है तो आप नेट बैंकिंग या फिर अपने होम ब्रांच में जाकर एटीएम के लिए अप्लाई कर सकते है।  अप्लाई करने के 1  सप्ताह में आपके पास एटीएम corrier  द्वारा आपके पते पर आजायेगा। अगर आप जल्द ही एटीएम लेना चाहते है तो अपने ब्रांच में बोल सकते है वहाँ  पर आपको बिना  नाम वाला एटीएम आपको दे दिया जायेगा जिसपे आपका नाम दर्ज नहीं होगा।

इसके बाद पिन बनाने की बारी आती है। दोस्तों पहले ये होता था के आपको एटीएम पिन आपको एटीएम कार्ड के साथ दे दिया जाता था लेकिन अब ज्यादार तर खुद से बनाना पड़ता है। हर बैंक का अपना एक टोल फ्री नंबर होता है उसपे संपर्क करने पर आपको समझा दिया जायेगा के कैसे आप पिन बनाये।इसका प्रोसेस आपके एटीएम के लिफ़ाफ़े पर भी लिखा होता है। फिर भी मै आपको बताता हूँ हर बैंक का एक नंबर होता है जिसपे आपको एक sms करना होता है जिसमे आप अपने खाता नंबर और एटीएम कार्ड का नंबर sms करेंगे तो आपके पास एक otp आएगा उसे एटीएम मशीन में use करके अपना पिन जेनेरेट कर सकते है।

दूसरा आप एटीएम मशीन से पिन जेनेरेट कर सकते है जिसके लिए पहले अपना एटीएम कार्ड को एटीएम मशीन में डाले उसके बाद PIN Generation पर क्लिक करे जिसके बाद आपके मोबाइल पर एक ग्रीन पिन आएगा उसे डाल  कर कन्फर्म करे।

फिर एटीएम को निकाल कर दुबारा इन्सर्ट करे अब आप पिन चेंज पर क्लिक करने पर आपसे पुराना पिन माँगा जायेगा उसमे आप ग्रीन पिन जो आपके मोबाइल पर आया  है उसे डाल कर आप अपना नया पिन बना सकते है।

दोस्तों ये था एटीएम के बारे में कुछ जानकारी अच्छा लगे तो शेयर जरूर करे।

ये भी पढ़े – Tata Sky Broadband जल्द ही फ्री लैंडलाइन सर्विस देने जा रहा है।

पसंद आया तो शेयर करे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*